24-25 January 2021 : करंट अफेयर्स (Current Affairs 2021)

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आयुष्मान सीएपीएफ’ (Ayushman CAPF) योजना शुरू की

  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने 23 जनवरी को असम (Assam) के गुवाहाटी (Guwahati) में ‘आयुष्मान सीएपीएफ’ (Ayushman CAPF) योजना शुरू की है।
  • अब आयुष्मान भारत योजना का फायदा देश के सभी सशस्त्र पुलिस बलों (Central Armed Police Forces-CAPF) को भी मिलेगा।
  • योजना में सीएपीएफ के 10 लाख जवान, अधिकारी और उनके करीब 50 लाख परिजन ‘आयुष्मान भारत: प्रधानमंत्री जनआरोग्‍य योजना’ के तहत देश के 24,000 अस्पतालों में इलाज करा सकेंगे।
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (National Health Authority-NHA) के साथ एक करार पर दस्तखत भी किए गए।
  • CAPF में असम राइफल्स (Assam Rifles), बीएसएफ (Border Security Force-BSF), सीआईएसएफ (Central Industrial Security Force-CISF), सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force-CRPF), आईटीबीपी (Indo-Tibetan Border Police-ITBP), एनएसजी (National Security Guard-NSG) और एसएसबी (Sashastra Seema Bal-SSB) शामिल है।

केरल में चींटी की नई प्रजाति ‘Ooceraea joshii’ खोजी गई

  • हाल ही में भारत (India) में एक दुर्लभ चींटी जीनस Ooceraea की दो नई प्रजातियों की खोज की गई है। यह प्रजातियां तमिलनाडु और केरल में खोजी गई हैं।
  • Ooceraea जीनस की नई खोजी गई प्रजाति एंटेना सेगमेंट की संख्या के मामले में दूसरों से भिन्न है।
  • इन दो चींटी प्रजातियों में से एक का नाम Ooceraea joshii रखा गया है। यह प्रजाति केरल के पेरियार टाइगर रिजर्व में पाई गई थी। इसका नाम प्रोफेसर अमिताभ जोशी (Amitabh Joshi) के सम्मान में Ooceraea joshii रखा गया है।
  • अमिताभ जोशी जवाहरलाल नेहरू सेंटर फॉर एडवांस्ड साइंटिफिक रिसर्च (JNCASR) के एक जीवविज्ञानी (Biologist) हैं। JNCASR विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST) का एक स्वायत्त संस्थान है।
  • यह दो नई चींटी प्रजातियां ऐसी पहली प्रजातियां हैं जिनके जीनस में दस खंडों वाले एंटीना हैं। उन्हें पंजाबी विश्वविद्यालय (Punjabi University) के प्रोफेसर हिमेंदर भारती (Dr. Himender Bharti) के नेतृत्व में एक टीम द्वारा खोजा गया था।
  • वर्तमान में Ooceraea जीनस की 14 प्रजातियां हैं और इसमें से 8 प्रजातियों में नौ-खंड वाले एंटीना हैं, जबकि 5 में ग्यारह खंडों वाले एंटीना हैं और 1 प्रजातियों में आठ खंडों वाले एंटीना हैं।
  • भारत में अब तक इस जीनस की दो प्रजातियां हैं; एक में नौ-खंड वाले एंटीना हैं और दूसरी में ग्यारह खंडों वाले एंटीना हैं। नई चींटी प्रजातियों की खोज को ‘ZooKeys’ जर्नल में प्रकाशित किया गया है।

कोटा के छात्र ने बनाई रिमोट वाली इलेक्ट्रॉनिक बाइक, मात्र 15 रुपए दौड़ेगी 70 किमी

  • राजस्‍थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) के पॉलिटेक्निक के छात्र मयंक गौतम (Mayank Gautam) ने इलेक्ट्रॉनिक बाइक (Electronic Bike) तैयार की है। यह रिमोट से नियंत्रित होगी।
  • यह बाइक मात्र 2 यूनिट यानी 15 रुपए की बिजली में बैटरी पूरी चार्ज हो जाएगी। उस स्थिति में बाइक 70 किमी चल सकेगी।
  • खास ये कि बाइक जब चलेगी, तो उसकी आवाज तक नहीं होगी। इससे प्रदूषण भी नहीं होगा।
  • मयंक के अनुसार, यह बाइक महज 30 हजार रुपए में बनकर तैयार हुई है। इसे बनाने में एक महीना लगा।
  • इसकी अधिकतम रफ्तार 30 किलोमीटर प्रतिघंटा है। इसका वजन 50 किलो है।
  • इसका फ्रेम भी मजबूत है। सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा गया है। इसमें 250 वॉट की मोटर है और 130 एंपियर की बैटरी है। यह बैटरी भी घर पर बनाई गई है।
  • यह करीब 5 से 6 साल चलेगी। रिमोट इसका ऑनलाइन मंगाया है। उसका कंट्रोल पैनल बनाकर जोड़ा गया है। बाइक को बनाने में उनके पिता संदीप गौतम ने मदद की है। वे इलेक्ट्रिक का काम करते हैं।

अंतरराष्‍ट्रीय शिक्षा दिवस (International Education Day)

  • शिक्षा का महत्‍व दुनियाभर में पहुंचाने के लिए हर साल 24 जनवरी को अंतरराष्‍ट्रीय शिक्षा दिवस (International Education Day) के रूप में मनाया जाता है।
  • कोरोना वायरस (Corona Virus) महामारी को ध्यान में रखते हुए अंतरराष्‍ट्रीय शिक्षा दिवस के लिए 2021 की थीम ‘Recover and Revitalize Education for the COVID-19 Generation’ है।
  • 3 दिसंबर 2018 को संयुक्त राष्ट्र महासभा (United Nations General Assembly) ने शांति और विकास के लिए शिक्षा की भूमिका को बढ़ावा देने के लिए 24 जनवरी के दिन को हर वर्ष अंतरराष्‍ट्रीय शिक्षा दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया।
  • नाइजीरिया और 58 अन्य सदस्य राष्‍ट्रों द्वारा ‘इंटरनेशनल डे ऑफ एजुकेशन’ को अपनाया गया। इसके बाद से, हर बच्‍चे की मुफ्त और बुनियादी शिक्षा तक पहुंच हो, इस उद्देश्‍य के साथ यह दिन हर वर्ष मनाया जाने लगा।
  • भारत में 11 नवंबर को राष्ट्रीय शिक्षा दिवस (National Education Day) के रूप में मनाया जाता है। यह देश के प्रथम शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद की स्मृति में मनाया जाता है। राष्ट्रीय शिक्षा दिवस की स्थापना 2008 में की गई थी।

राष्ट्रीय बालिका दिवस (National Girl Child Day)

  • बाल लिंगानुपात के बारे में जागरूकता फैलाने तथा बालिकाओं के सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के उद्देश्‍य से भारत में प्रतिवर्ष 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस (National Girl Child Day) मनाया जाता है।
  • इसका उद्देश्य योजनाओं तथा पहलों के द्वारा बालिकाओं को सशक्तिकरण के नए अवसर उपलब्ध करवाना, बालिकाओं के विकास के लिए सकारात्मक माहौल तैयार करना है।
  • इसकी शुरुआत 2008 में महिला और बाल विकास मंत्रालय और भारत सरकार द्वारा की गई थी। 24 जनवरी के दिन इंदिरा गांधी को नारी शक्ति के रूप में याद किया जाता है।
  • इस दिन इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) पहली बार प्रधानमंत्री (Prime Minister) की कुर्सी पर बैठी थीं इसलिए इस दिन को राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया है।
  • विश्व भर में 11 अक्टूबर को अंतरराष्‍ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य बालिकाओं के अधिकारों के बारे में जागरूकता फैलाना है तथा उन्हें शिक्षा, पोषण, स्वास्थ्य सुविधा, कानूनी अधिकार तथा भेदभाव से संरक्षण उपलब्ध करवाना है। अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस की घोषणा संयुक्त राष्ट्र द्वारा की गई थी। सर्वप्रथम 11 अक्टूबर 2012 को अंतरराष्‍ट्रीय बालिका दिवस मनाया गया।

Leave a Reply