21 January 2021 : करंट अफेयर्स (Current Affairs 2021)

कमला देवी हैरिस (Kamala Devi Harris) अमेरिका की पहली महिला उपराष्‍ट्रपति बनीं

  • भारतीय मूल की कमला देवी हैरिस (Kamala Devi Harris) ने 20 जनवरी को अमेरिका की पहली महिला उपराष्ट्रपति के रूप में शपथ ली।
  • हैरिस (56) अमेरिका की 49वीं उपराष्ट्रपति हैं। वह राष्ट्रपति जो बाइडन (78) के साथ काम करेंगी।
  • कमला देवी हैरिस (Kamala Devi Harris) ने 61 वर्षीय माइक पेंस (Mike Pence) की जगह ली है, जबकि बाइडन ने डोनाल्ड ट्रंप की जगह ली है।
  • Kamala Devi Harris इस पद पर पहुंचने वाली पहली अश्वेत एवं पहली एशियाई अमेरिकी भी हैं।
  • इस नाते उनके पति डगलस एमहॉफ (56) अमेरिका के इतिहास में ‘सेकेंड जेंटलमैन’ का खिताब पाने वाले पहले पुरूष हैं।
  • उच्चतम न्यायालय की न्यायाधीश न्यायमूर्ति सोनिया सोटोमेयर ने हैरिस को शपथ दिलाई।
कमला देवी हैरिस (Kamala Devi Harris)
  • हैरिस भारतीय मां और जमैका से ताल्लुक रखने वाले अफ्रीकी-अमेरिकी पिता की पुत्री हैं। उनका जन्‍म 20 अक्टूबर 1964 में कैलिफोर्निया के ऑकलैंड में हुआ।
  • उनकी मां श्यामला गोपालन (Shyamala Gopalan) हैरिस चेन्नई (Chennai) से थीं। हैरिस के पिता डोनाल्ड (Donald) अर्थशास्त्र के जमैकियन-अमेरिकी प्रोफेसर हैं।
  • पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकाल में वह ‘फीमेल ओबामा’ (Female Obama) के नाम से लोकप्रिय थीं।
  • होवार्ड विश्वविद्यालय में अध्ययन के बाद हैरिस ने कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय से कानून की पढ़ाई की। 2003 में वह सेन फ्रांसिस्को की शीर्ष अभियोजक बनीं।
  • 2010 में वह कैलिफोर्निया की अटॉर्नी बनने वाली पहली महिला और पहली अश्वेत व्यक्ति थीं।
  • 2017 में हैरिस कैलिफोर्निया से जूनियर अमेरिकी सीनेटर चुनी गईं।

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में 850 मेगावाट की रतले पनबिजली परियोजना के लिए 5282 करोड़ रुपए का निवेश प्रस्ताव मंजूर

  • केंद्र सरकार (Central Government) ने 20 जनवरी को जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के किश्तवाड़ जिले में चिनाब नदी (Chenab River) पर स्थित 850 मेगावाट की रतले पनबिजली परियोजना (Ratle Hydropower Project) के लिए 5281.94 करोड़ रुपए के निवेश के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर की इस परियोजना संबंधी इस प्रस्ताव को स्वीकृति दी है।
  • यह निवेश राष्ट्रीय जल विद्युत निगम (National Hydroelectric Power Corporation-NHPC) और जम्मू-कश्मीर राज्य विद्युत विकास निगम लिमिटेड Jammu & Kashmir State Power Development Corporation Limited-JKSPDCL की क्रमशः 51% और 49% हिस्सेदारी वाली एक नई संयुक्त उद्यम कंपनी (जेवीसी) द्वारा किया जाएगा।
  • NHPC अपने आंतरिक संसाधनों से 808.14 करोड़ रुपए की अपनी इक्विटी का निवेश करेगी।
  • Ratle Hydropower Project को 60 माह की अवधि में चालू करने का लक्ष्य है।
  • जम्मू-कश्मीर सरकार इस परियोजना के चालू होने के बाद 10 साल तक जल उपयोग शुल्क लगाने से छूट देगी, जीएसटी (यानी एसजीएसटी) में राज्य की हिस्सेदारी की प्रतिपूर्ति करेगी और केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर को मिलने वाली मुफ्त बिजली में न्यूनीकरन तरीके से छूट देगी।
  • केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर को मिलने वाली मुफ्त बिजली इस परियोजना के चालू होने के बाद पहले साल में 1% होगी और प्रति वर्ष 1% की दर से बढ़कर 12वें साल में 12% हो जाएगी।
  • केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर 5,289 करोड़ रुपए की मुफ्त बिजली पाने के साथ-साथ 40 वर्षों के परियोजना जीवन चक्र के दौरान रतले पनबिजली परियोजना से 9,581 करोड़ रुपए के जल उपयोग शुल्‍क के माध्यम से लाभान्वित होगा।

गुजरात सरकार ने ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर रखा ‘कमलम’

  • गुजरात (Gujarat) सरकार ने ‘ड्रैगन फ्रूट’ (Dragon Fruit) का नाम बदलकर ‘कमलम’ (Kamalam) करने का प्रस्ताव रखा है।
  • ड्रैगन फ्रूट दक्षिण और मध्य अमेरिका के स्वदेशी जंगली कैक्टस की प्रजाति का एक फल है।
  • ड्रैगन फ्रूट का अंदरुनी हिस्सा प्रायः सफेद या लाल रंग का होता है, हालांकि पीले रंग के अंदरूनी हिस्से वाले दुर्लभ ड्रैगन फ्रूट भी पाए जाते हैं, साथ ही इसमें किवी फ्रूट की तरह छोटे बीज भी होते हैं।
  • विश्व में ड्रैगन फ्रूट का सबसे बड़ा उत्पादक और निर्यातक वियतनाम है, जहां 19वीं शताब्दी में फ्रांसीसी यह फल लाए थे।
  • लैटिन अमेरिका के अलावा थाईलैंड, ताइवान, चीन, ऑस्ट्रेलिया, इज़राइल और श्रीलंका में भी ड्रैगन फ्रूट का उत्पादन किया जाता है।
  • ड्रैगन फ्रूट को 1990 के दशक में भारत (India) में लाया गया और वर्तमान में यह कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, गुजरात, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश तथा अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह में उगाया जाता है।
  • यह सभी प्रकार की मिट्टी में उगाया जा सकता है और इसे अधिक पानी की आवश्यकता नहीं होती है।

पाकिस्तान ने शाहीन-3 (Shaheen 3) परमाणु मिसाइल का टेस्ट किया

  • पाकिस्तान (Pakistan) ने जमीन से जमीन पर मार करने वाली शाहीन-3 (Shaheen 3) मिसाइल का टेस्ट किया है।
  • परंपरागत हथियारों के साथ ही परमाणु हथियार ले जाने की क्षमता से लैस इस मिसाइल की रेंज 2750 किलोमीटर है। यह दूरी भारत में चेन्नई तक को निशाना बनाने के लिए काफी है।
  • शाहीन-3 ठोस-ईंधन से चलने वाली बैलिस्टिक मिसाइलों में से एक है जो परमाणु हथियार ले जा सकती है।
  • इसका सबसे पहला टेस्ट 2015 में किया गया था। पाकिस्तान की सभी मिसाइल प्रणालियों में से इसकी रेंज सबसे ज्यादा है।
  • इससे पहले टेस्ट की गईं शाहीन-1 की क्षमता 900 किलोमीटर दूर तक मार करने की है जबकि शाहीन-2 परमाणु हथियारों के साथ 1500 किलोमीटर दूर मार कर सकती है।

भारत-उज्बेकिस्तान सौर ऊर्जा (Solar Energy) सहयोग को मंजूरी

  • सरकार ने भारत (India) और उज्बेकिस्तान के बीच सौर ऊर्जा (Solar Energy) के क्षेत्र में सहयोग के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने की मंजूरी दी है।
  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी (Narendra Modi) की अध्‍यक्षता में 20 जनवरी को मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई।
  • समझौता ज्ञापन के तहत क्षेत्र राष्‍ट्रीय सौर ऊर्जा संस्‍थान, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय, भारत तथा अंतररराष्‍ट्रीय सौर ऊर्जा संस्‍थान उज्‍बेकिस्‍तान के बीच परस्‍पर पहचान किए गए क्षेत्रों में अनुसंधान, प्रदर्शन तथा पायलट परियोजनाओं की पहचान करना है।
  • समझौते के तहत सोलर फोटोवोल्टिक, भंडारण प्रौद्योगिकियां तथा प्रौद्योगिकी का हस्‍तांतरण जैसे क्षेत्रों की पहचान की जाएगी, जिससे परस्‍पर अनुबंध के आधार पर दोनों देश अंतरराष्‍ट्रीय सौर गठबंधन के सदस्‍य देशों में पायलट परियोजना के कार्यान्‍वयन के लिए काम करेंगे।

डीआरडीओ ने भू-खतरा प्रबंधन के लिए सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के साथ फ्रेमवर्क एमओयू पर हस्‍ताक्षर किए

  • सड़क परिवहन एवं राजमार्ग राजमार्ग मंत्रालय ने प्राकृतिक आपदा प्रबंधन (Disaster Management) जैसे- जमीन धंसने या पहाड़ खिसकने जैसी परिस्थितियों से निपटने की पर्यावरण अनुकूल व्यवस्था करने में सहयोग के लिए 20 जनवरी को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (Defence Research and Development Organisation-DRDO) से करार किया।
  • सड़क परिवहन एवं राजमार्ग विभाग के सचिव गिरिधर अरमानी और डीआरडीओ के सचिव सतीश रेड्डी ने नई दिल्ली में इस करार पर हस्ताक्षर किए।
  • इसके तहत मंत्रालय और डीआरडीओ बर्फीले इलाकों में हर मौसम लायक सड़क मार्ग की योजना तथा जमीन खिसकने जैसी परिस्थितयों में बचाव के लिए समन्वित योजना की अवधारणा तैयार करने जैसे क्षेत्रों में परस्पर सहयोग करेंगे।
  • दोनों एजेंसियां भूस्खन रोकने के ढांचों के विकास में भी सहयोग करेंगी।

हिमाचल में पहाड़ी क्षेत्रों में दूरसंचार संपर्क में सुधार के लिए समझौता

  • हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के पहाड़ी क्षेत्रों में दूरसंचार संपर्क में सुधार के लिए शिमला में पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (Power Grid Corporation of India) ने 500 किलोमीटर के ऑप्टिकल ग्राउंड वायर (ओपीजीडब्ल्यू) टेलि‍कॉम नेटवर्क के उपयोग को लेकर हिमाचल प्रदेश स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड लिमिटेड (एचपीएसईबीएल) के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।
  • कुल 850 किलोमीटर लंबाई वाली यह दूरसंचार नेटवर्क पावरग्रिड टेलिकॉम को कांगड़ा, ऊना, मंडी, कुल्लू, बिलासपुर, सिरमौर, पालमपुर, सुंदरनगर, बनीखेत, अम्ब, पांवटा साहिब और नाहन आदि के दूर दराज वाले क्षेत्रों में पहुंचने के लिए सक्षम बनाएगा।
  • पावरग्रिड (Power Grid Corporation of India) विद्युत मंत्रालय, भारत सरकार और केंद्रीय ट्रांसमिशन यूटिलिटी (सीटीयू) के तहत पावरग्रिड एक केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम (सीपीएसई) है।

क्वांटम कंप्यूटिंग एप्लीकेशन प्रयोगशाला (Quantum Computing Applications Lab)

  • इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (Ministry of Electronics and Information Technology-MeitY) ने देश की पहली क्वांटम कंप्यूटिंग एप्लीकेशन प्रयोगशाला विकसित करने के लिए अमेज़न वेब सर्विसेज़ (Amazon Web Services-AWS) के साथ सहयोग की घोषणा की है।
  • इस नई प्रयोगशाला का उद्देश्य कंप्यूटर डवलपरों, वैज्ञानिकों और शैक्षणिक समुदायों को क्वांटम कंप्यूटिंग के विकास के लिए उपयुक्त माहौल प्रदान करना है।
  • इस प्रयोगशाला में शोधकर्त्ताओं से विषय विशेषज्ञों के साथ कार्य करने के लिए आवेदन आमंत्रित किया जाएगा। चयनित आवेदकों को क्वांटम कंप्यूटिंग हार्डवेयर, सिमुलेटर और प्रोग्रामिंग उपकरण दिए जाएंगे।
  • हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि यह नई प्रयोगशाला ‘नेशनल मिशन ऑन क्वांटम टेक्नोलॉजीज़ एंड एप्लीकेशन्स’ (NM-QTA) के दायरे में आती है अथवा नहीं।
  • केंद्र सरकार ने केंद्रीय बजट (2020-21) में नेशनल मिशन ऑन क्वांटम टेक्नोलॉजीज़ एंड एप्लीकेशन्स (NM-QTA) के तहत पांच वर्ष के लिए 8,000 करोड़ रुपए खर्च करने की घोषणा की थी।
  • इस मिशन का उद्देश्य क्वांटम कंप्यूटिंग से जुड़ी तकनीकों को विकसित करना एवं भारत को अमेरिका एवं चीन के बाद इस क्षेत्र में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा देश बनाना है।
  • क्वांटम कंप्यूटिंग तकनीक के महत्त्व को देखते हुए तमाम देशों द्वारा इस क्षेत्र में निवेश किया जा रहा है, चीन ने अपनी ‘नेशनल लेबोरेटरी फॉर क्वांटम इन्फार्मेशन साइंसेज़’ में 10 बिलियन डॉलर का निवेश किया है।

राष्‍ट्रीय स्‍टार्टअप सलाहकार परिषद में नए सदस्‍य नामित

  • हाल ही में सरकार ने राष्‍ट्रीय स्‍टार्टअप सलाहकार परिषद में 28 गैर-आधिकारिक सदस्यों को नामांकित किया है।
  • इसमें बायजू (Byju) के संस्थापक बायजू रविंद्रन, ज़ेस्टमनी (ZestMoney) के सह-संस्थापक लिज़ी चैपमैन और एक्सिलर वेंचर्स (Axilor Ventures) के अध्यक्ष क्रिस गोपालकृष्णन समेत कई अन्य स्टार्टअप्स के संस्थापक और निवेशक को शामिल किया हैं।
  • राष्‍ट्रीय स्‍टार्टअप सलाहकार परिषद के गैर-आधिकारिक सदस्यों का कार्यकाल दो वर्ष का होगा।
  • उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग (Department for Promotion of Industry and Internal Trade- DPIIT) ने देश में नवाचार और स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिये एक अनुकूल पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने के लिए आवश्यक उपायों पर सरकार को सलाह देने के लिए जनवरी 2020 में एक राष्ट्रीय स्टार्टअप सलाहकार परिषद की स्थापना की थी।
  • यह परिषद आम नागरिकों विशेष तौर पर छात्रों के बीच नवाचार की संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए उपाय सुझाएगी; अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों और अर्द्ध-शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में नवाचार को बढ़ावा देने का प्रयास करेगी; सृजन, संरक्षण एवं बौद्धिक संपदा अधिकारों के व्यावसायीकरण को बढ़ावा देगी तथा इसे आसान बना देगी और लागत को कम करके व्यवसायों को शुरू करने, संचालित करने तथा बढ़ावा देने की दिशा में कार्य करेगी, जिसमें गैर-आधिकारिक सदस्यों की विशेषज्ञता का लाभ मिलेगा।

पंत बल्लेबाजी रैंकिंग में 13वें स्थान पर, विकेटकीपर बल्लेबाजों में हैं सर्वश्रेष्ठ

  • भारत के ऋषभ पंत (Rishabh Pant) आस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिसबेन टेस्ट मैच में नाबाद 89 रन की मैच विजेता पारी खेलने से विश्व में सर्वाधिक रैंकिंग के विकेटकीपर बल्लेबाज बन गए हैं।
  • अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (International Cricket Council-ICC) की 20 जनवरी को जारी विश्व रैंकिंग में पंत (691 अंक) बल्लेबाजों की सूची में 13वें स्थान पर पहुंच गए हैं जो उनके कॅरियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग है।
  • विकेटकीपर बल्लेबाजों में उनके बाद दक्षिण अफ्रीका के क्विंटन डिकॉक का नंबर आता है जो 677 अंकों के साथ 15वें स्थान पर हैं।
  • आस्ट्रेलिया के बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन ब्रिसबेन में पहली पारी के शतक के दम पर भारतीय कप्तान विराट कोहली (862 अंक) से आगे निकलकर तीसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। लाबुशेन के 878 अंक हैं।
  • न्यूजीलैंड के केन विलियमसन (919) और आस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ (891) पहले दो स्थानों पर हैं।
  • गेंदबाजों की सूची में मोहम्मद सिराज 32 पायदान की छलांग लगाकर 45वें स्थान पर पहुंच गए हैं।
  • आस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन 50 और 27 रन की पारियों से तीन पायदान ऊपर 42वें स्थान पर पहुंच गए हैं जबकि तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड न्यूजीलैंड के टिम साउदी को पीछे छोड़कर चौथे स्थान पर पहुंच गए हैं।
  • इंग्लैंड के जो रूट ने श्रीलंका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में 228 रन की पारी के दम पर बल्लेबाजों की सूची में शीर्ष पांच में वापसी की है। उनके 783 अंक हैं जो पिछले दो वर्षों में उनके सर्वाधिक रेटिंग अंक हैं। रूट छह पायदान आगे बढे।

कुछ अन्‍य महत्‍वपूर्ण करंट अफेयर्स

  • हावड़ा-कालका मेल (Howrah Kalka Mail) का नाम बदलकर ‘नेताजी एक्सप्रेस’ (Netaji Express) किया: भारतीय रेल मंत्रालय (Railway Ministry) ने हावड़ा-कालका मेल ट्रेन (Howrah-Kalka Mail) का नाम बदलकर ‘नेताजी एक्सप्रेस’ (Netaji Express) रखने का ऐलान किया है। मंत्रालय ने महान स्वतंत्रता सेनानी नेता जी सुभाष चंद्र बोस (Subhas Chandra Bose) को श्रद्धांजलि देते हुए उनकी 125वीं जयंती के मौके पर इस ट्रेन का नाम नेताजी एक्सप्रेस करने का फैसला किया है।
  • दुनिया का सबसे ऊंचा बाइक म्यूजियम आग से तबाह: (Austria) के आल्प्स (Alps) पर्वत क्षेत्र में 7135 फीट की ऊंचाई पर बना मोटरबाइक म्यूजियम जलकर राख हो गया। आग लगने से 100 ब्रांड की 230 लग्जरी बाइकें और कुछ कारें भी जल गईं। 2016 में बने इस म्यूजियम में 110 साल से ज्यादा पुरानी मोटरसाइकिलें थीं। यह दुनिया का इकलौता म्यूजियम है, जो 7 हजार फीट से ज्यादा ऊंचाई पर बना है। इससे पहले 2003 में ब्रिटिश नेशनल मोटरसाइकिल म्यूजियम में 380 प्रीमियम मोटरसाइकिलें जलकर राख हो गई थीं।

Leave a Reply