18 August 2020 : करंट अफेयर्स (Current Affairs 2020)

गुजरात कैडर के आईपीएस राकेश अस्थाना बने बीएसएफ के महानिदेशक

  • गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना को सीमा सुरक्षा बल (Border Security Force-BSF) का महानिदेशक नियुक्त किया गया है।
  • वे इस पद पर 31 जुलाई 2021 तक रहेंगे।
  • अस्थाना अभी तक ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन एंड सिक्योरिटी (Bureau of Civil Aviation Security-BCAS) और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (Narcotics Control Bureau-NCB) के प्रमुख के पद पर तैनात है।
  • कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी की गई अधिसूचना के मुताबिक, वे बीएसएफ के साथ-साथ एनसीबी का पदभार भी संभालते रहेंगे।
  • 1984 बैच के गुजरात कैडर के आईपीएस राकेश अस्थाना जब सीबीआई में स्पेशल डायरेक्टर के पद पर तैनात थे तो उनका डायरेक्टर, आलोक वर्मा के साथ विवाद हुआ था जिसको लेकर दोनों अधिकारी कोर्ट चले गए थे।
  • बाद में सुप्रीम कोर्ट ने बीच बचाव किया था। उसके बाद राकेश अस्थाना के खिलाफ सीबीआई में ही भ्रष्टाचार के आरोपों की एक इंक्वायरी हुई थी।
  • हालांकि, सीबीआई ने उन्हें क्लीन-चिट दे दी थी, जिसके बाद उन्हें बीसीएएस और एनसीबी दोनों का प्रमुख बना दिया गया था।

कौमुदी गृह मंत्रालय में विशेष सचिव नियुक्‍त

  • वीएसके कौमुदी गृह मंत्रालय में विशेष सचिव (आंतरिक सुरक्षा) बनाए गए है।
  • कौमुदी आंध्र प्रदेश कैडर के 1986 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं।
  • वे वर्तमान में पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो (Bureau of Police Research and Development-BPRD) के महानिदेशक के रूप में कार्यरत हैं।
  • वह 30 नवंबर 2022 तक इस पद पर रहेंगे।
  • वहीं उत्तर प्रदेश कैडर के जावेद अख्तर को महानिदेशक, अग्निशमन सेवा, सिविल डिफेंस और होमगार्ड नियुक्त किया गया है।
  • वे इस पद पर 31 जुलाई 2021 तक रहेंगे।
  • अख्तर वर्तमान में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (Central Reserve Police Force-CRPF) के विशेष महानिदेशक के रूप में कार्यरत हैं।

एमसीएक्स 24 को लॉन्च करेगा देश का पहला बुलियन इंडेक्स

  • मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज ऑफ इंडिया (Multi Commodity Exchange-MCX) देश का पहला बुलियन इंडेक्स ‘बुलडेक्स’ 24 अगस्त को लॉन्च करने जा रहा है।
  • सितंबर, अक्टूबर, नवंबर में एक्सपायर होने वाले एमसीएक्स आईकॉमडेक्स बुलियन इंडेक्स फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट्स 24 अगस्त से ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध रहेंगे।
  • सक्रिय भागीदारी को बढ़ावा देने और इंडेक्स प्रोडक्ट के बाजार को विकसित करने के लिए 23 नवंबर तक बुलियन इंडेक्स के फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट पर कोई ट्रांजैक्शन चार्ज नहीं लगेगा।
  • ‘बुलडेक्स’ एमसीएक्स के बुलियन कॉम्प्लेक्स का छठा प्रोडक्ट है।
  • इससे पहले एमसीएक्स ट्रेडिंग के लिए 1-किग्रा गोल्ड, 100-ग्राम गोल्डमिनी, 8-ग्राम गोल्ड गिनी और 1-ग्राम गोल्ड पेटा और 1-किग्रो गोल्ड में वायदा और विकल्प लॉन्च कर चुका है।
  • एमसीएक्स के बुलियन हेड शिवांशु मेहता ने कहा, बुलियन कमोडिटी में एक्सपोजर वाले रिटेल क्लाइंट की इसमें रूचि बनेगी।

एक लाख से अधिक लोगों ने ऑनलाइन हनुमान चालीसा पढ़ी, बना गिनीज रिकॉर्ड

  • कोरोना काल में आध्यात्मिक ऊर्जा बढ़ाने के लिए स्वतंत्रता दिवस के दिन 50 से अधिक देशों के एक लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने हनुमान चालीसा का ऑनलाइन पाठ किया।
  • यह पहल गिनीज बुक ऑफ वर्ल्‍ड रिकॉर्ड में भी दर्ज की गई है।
  • आयोजन अमेरिका की सिलिकॉन आंध्रा नामक संस्था ने योगगुरु स्वामी आनंद गिरि के मार्गदर्शन में किया था।
  • रात 8:30 बजे से जूम एप के जरिये श्रद्धालु जुड़ना शुरू हुए। पाठ रात करीब 11:30 बजे शुरू हुआ। छह मिनट में एक पाठ पूरा हुआ। सबने मिलकर हनुमान चालीसा का 11 बार पाठ किया।

हैदराबाद के स्टार्टअप के पहले स्वदेशी अपर स्टेज रॉकेट इंजन का टेस्ट फायर सफल

  • हैदराबाद स्थित स्टार्टअप स्काईरूट एयरोस्पेस ने भारत के पहले स्वदेशी अपर स्टेज इंजन का सफलतापूर्वक टेस्ट फायर किया है।
  • स्काईरूट यह कारनामा करने वाली भारत की पहली प्राइवेट कंपनी बन गई है।
  • इंजन की टेस्ट फायरिंग 13 अगस्त को की गई थी।
  • कंपनी का दावा है कि इसमें 100% 3डी प्रिंटेड इंजेक्टर हैं और यह लंबे मिशन में भी काम आ सकता है।
  • रमन नाम का यह राॅकेट इंजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा शुरू किए गए अंतरिक्ष सुधारों को समर्पित किया गया है।

गायकी के रसराज पंडित जसराज का निधन

  • महान शास्त्रीय गायक पंडित जसराज का अमेरिका के न्यू जर्सी में 17 अगस्‍त 2020 को कार्डियक अरेस्ट के चलते निधन हो गया।
  • 90 साल के पंडित जसराज का सुरों का सफर करीब 76 साल लंबा रहा।
  • उन्हें, पद्म विभूषण सहित अनेक अवार्ड्स से नवाजा गया। पिछले साल एक ग्रह का नामकरण भी उनके नाम पर हुआ था।
  • मेवाती घराने से ताल्लुक रखने वाले पंडित जसराज अमेरिका और कनाडा में संगीत की शिक्षा देते थे।
  • ‘ओम नमो भगवते वासुदेवाय’ हो या ‘ओम नम: शिवाय’, उनकी आवाज और शास्त्रीय गायन अपने-आप में प्रार्थना का रिवाज बन चुका था।
  • पंडित जसराज का जन्‍म 28 जनवरी 1930 को हरियाणा के फतेहाबाद जिले के पीली मंदोरी गांव में हुआ था।
  • शास्त्रीय संगीत से जुड़ाव के लिए बेगम अख्तर को श्रेय देने वाले पंडित जसराज ने 14 साल की उम्र में गायन शुरू किया था।
  • उन्‍होंने एक अनोखी जुगलबंदी की रचना की। इसमें महिला और पुरुष गायक अलग-अलग रागों में एक साथ गाते हैं। इस जुगलबंदी को जसरंगी नाम दिया गया।
  • सितंबर 2019 में पंडित जसराज को अमेरिका ने अनूठा सम्मान दिया। 13 साल पहले खोजे गए ग्रह का नामकरण उनके नाम पर किया गया।
  • ग्रह की खोज नासा और इंटरनेशनल एस्ट्रोनॉमिकल यूनियन के वैज्ञानिकों ने की थी।
  • ग्रह का नंबर पंडित जसराज की जन्म तिथि से उलट था। उनकी जन्मतिथि 28/01/1930 है और ग्रह का नंबर 300128 था।
  • नासा का कहना था कि पंडित जसराज ग्रह हमारे सौरमंडल में गुरु और मंगल के बीच रहते हुए सूर्य की परिक्रमा कर रहा है।
  • पंडित जसराज ने 2012 में 82 साल की उम्र में अंटार्कटिका के दक्षिणी ध्रुव पर प्रस्तुति दी। वे सातों महाद्वीप में कार्यक्रम पेश करने वाले पहले भारतीय बन गए।

एनटीपीसी ने फ्लाई ऐश के बढ़ते उपयोग के लिए रिहंद परियोजना में बुनियादी ढांचे का विकास किया

  • राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम (National Thermal Power Corporation- NTPC) ने फ्लाई ऐश (Fly Ash) के बढ़ते उपयोग के लिए उत्तर प्रदेश की रिहंद परियोजना (Rihand Project) में बुनियादी ढांचे का विकास किया है।
  • इस बुनियादी ढाँचे से कम लागत पर सीमेंट प्लांटों में थोक फ्लाई ऐश पहुंचाने में मदद मिलेगी।
  • वित्तीय वर्ष 2019-20 के दौरान विभिन्न उत्पादक उद्देश्यों के लिए 44 मिलियन टन से अधिक फ्लाई ऐश का उपयोग किया गया।
  • फ्लाई ऐश (Fly Ash) कई पदार्थों जैसे- कोयला आदि को जलाने से निर्मित महीन कणों से बनी होती है।
  • ये महीन कण वातावरण में उत्सर्जित होने वाली गैसों के साथ ऊपर उठने की प्रवृत्ति रखते हैं। इसके इतर जो राख/ऐश ऊपर नहीं उठती है, वह ‘पेंदी की राख’ कहलाती है।
  • कोयला संचालित विद्युत संयंत्रों से उत्पन्न फ्लाई ऐश को प्रायः चिमनियों द्वारा ग्रहण कर लिया जाता है।
  • फ्लाई ऐश में सिलिकन डाईऑक्साइड और कैल्सियम ऑक्साइड बहुत अधिक मात्रा में पाई जाती है।
रिहंद परियोजना (Rihand Project):
  • रिहंद सुपर थर्मल पावर प्रोजेक्ट (Rihand Super Thermal Power Project) उत्तर प्रदेश में सोनभद्र ज़िले के रेणूकूट में अवस्थित है।
  • यह पावर प्लांट NTPC लिमिटेड के कोयला आधारित बिजली संयंत्रों में से एक है।
  • रिहंद बांध को ‘गोविंद बल्लभ पंत सागर’ के नाम से भी जाना जाता है। यह आयतन के आधार पर भारत का सबसे बड़ा बांध है और यह भारत की सबसे बड़ी कृत्रिम झील है।
  • इसका जलाशय क्षेत्र मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश की सीमा पर अवस्थित है। यह सोन नदी की एक सहायक नदी रिहंद नदी पर अवस्थित है।
  • रिहंद बांध उत्तर प्रदेश में सोनभद्र ज़िले के पिपरी में स्थित एक कंक्रीट गुरुत्वाकर्षण बांध है।

Leave a Reply